Narendra Modi Is A Model and Hero: Patna High Court Chief Justice

0

 

Chief Justice of Patna High Court, Justice Mukesh Rasik Bhai Shah

Caravan News

PATNA: Newly-appointed Chief Justice of Patna High Court, Justice Mukesh Rasik Bhai Shah who was recently elevated to the post of Chief Justice from being judge of the Gujarat High Court, has called Prime Minister Narendra Modi a “model and a hero” when asked by a journalist why people are linking him with PM Modi and BJP President Amit Shah.

During an interview with the Hindi daily Amar Ujala, the journalist asked: You come from Gujarat. As you are from the state of PM Modi and BJP chief Amit Shah, people end up linking you with Modi. Why does this happen?

Justice Shah replied: Because Narendra Modi is a model. He is a hero. As for Modi, this is going on for the last one month. There are hundreds of such clippings on social media. Newspapers also publish such things every day.

सवाल: आप गुजरात से हैं। गुजरात को लेकर लोगों के मन में कई तरह की धारणाएं हैं। आपके यहां आने के बाद से बहुत तरह की बातें भी निकल कर आई हैं। आप प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के राज्य से हैं। तो लोग कहते हैं कि आप तो मोदी और अमित शाह के शहर से हैं। एक गुजराती के लिए इस परसेप्शन से बाहर निकलना कितना जरूरी होता है। सब लोग आपको मोदी से जोड़ लेते हैं, ऐसा क्यों होता है?

जवाब: क्योंकि नरेंद्र मोदी एक मॉडल हैं। वह एक हीरो हैं। जहां तक मोदी की बात है तो पिछले एक महीने से यही चल रहा है। सोशल मीडिया पर ऐसे सैकड़ों क्लिपिंग्स हैं। रोज पेपर में भी यही चलता है।
Excerpt from interview in Amar Ujala Hindi daily

 

 Justice Shah took oath of Patna High Court Chief Justice on 12th August.

Justice Shah, who hails from Gujarat, enrolled with the Bar in 1982 and practiced for over 20 years in the Gujarat High Court in Ahmedabad and Central Administrative Tribunal in Civil, Criminal, Constitutional, Taxation, Labour, Service and Company matters.

He was then elevated as an Additional Judge at the High Court in March, 2004, and was made permanent in June 2005.

In the long interview, Justice Shah spoke on various issues – from road traffic to pending cases to Hindutva.

On Hindutva, he did not put his views. He said: “I have not studied this matter. Leave it. I believe in work. Work is worship.” He also said that “a judge speaks only through his judgment.”

सवाल: इधर हाल फिलहाल में हिंदुत्व, राष्ट्रवाद जैसे मुद्दे छाए हुए हैं। सुप्रीम कोर्ट और हाई कोर्ट से इसे लेकर पिछले दिनों में कई टिप्पणियां भी आई थीं। अगर हम केवल हिंदुत्व की बात करें तो इसे लेकर आप क्या सोचते हैं?

जवाबः मैटर स्टडी नहीं किया है, जाने दो। मैं काम करने में भरोसा रखता हूं। कर्म ही पूजा है।

सवालः आपको व्यक्तिगत तौर पर ये नहीं लगता कि ये थोड़ा ज्यादा हो रहा है। एक विशेष धर्म अथवा जाति को लेकर यह ठीक नहीं है?

जवाब: मेरी बात इनमें मायने नहीं रखती।

सवालः आप चीफ जस्टिस हैं। आपका परसेप्शन मायने रखता है।

जवाबः जो भी है। इसके लिए मैं आपको बस इतना ही कहना चाहूंगा कि एक जज सिर्फ अपने जजमेंट से बोलता है। कल को मैं सुप्रीम कोर्ट का चीफ जस्टिस हो जाऊं और आपको इंटरव्यू दूं तो ठीक है। वैसे हमें केवल अपने जजमेंट से ही बोलना होता है।

Excerpt from interview in Amar Ujala Hindi daily

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here